For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

Rana Pratap Singh's Discussions (2,072)

Discussions Replied To (1797) Replies Latest Activity

"आदरणीया नीलम जी बधाइयों के लिए शुक्रिया|"

Rana Pratap Singh replied Apr 6 to खुशियाँ और गम, ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार के संग...

2695 Apr 8
Reply by rajesh kumari

"आदरणीय समर कबीर साहब आपकी शुभकामनाओं के लिए तहे दिल से शुक्रिया| "

Rana Pratap Singh replied Apr 4 to खुशियाँ और गम, ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार के संग...

2695 Apr 8
Reply by rajesh kumari

"बागी भैया, जन्मदिन की शुभकामनाओं के लिए तहे दिल से शुक्रिया "

Rana Pratap Singh replied Apr 4 to खुशियाँ और गम, ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार के संग...

2695 Apr 8
Reply by rajesh kumari

"आदरणीय सौरभ सर , जन्मदिन की शुभकामनाओं के लिए तहे दिल से शुक्रिया|"

Rana Pratap Singh replied Apr 4 to खुशियाँ और गम, ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार के संग...

2695 Apr 8
Reply by rajesh kumari

सदस्य टीम प्रबंधन

"आदरणीय समर साहब क़ुव्वत सही शब्द है इसलिए मैंने संशोधन कर दिया है| "

Rana Pratap Singh replied Oct 4, 2017 to ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा-अंक 87 में शामिल सभी ग़ज़लों का संकलन (चिन्हित मिसरों के साथ)

11 Oct 4, 2017
Reply by Samar kabeer

सदस्य टीम प्रबंधन

"आदरणीय समर साहब,  दरअसल हिंदी में इस शब्द को १२ में बांधा जाता है और उर्दू में २१ इस…"

Rana Pratap Singh replied Oct 4, 2017 to ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा-अंक 73 में शामिल सभी ग़ज़लों का संकलन (चिन्हित मिसरों के साथ)

19 Oct 4, 2017
Reply by Samar kabeer

सदस्य टीम प्रबंधन

"आदरणीय महेंद्र जी पहले मिसरे में मयकदे की मात्रा को गिराकर बांधा गया है जो जायज़ नहीं…"

Rana Pratap Singh replied Oct 4, 2017 to ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा-अंक 76 में शामिल सभी ग़ज़लों का संकलन (चिन्हित मिसरों के साथ)

5 Oct 6, 2017
Reply by Mahendra Kumar

सदस्य टीम प्रबंधन

"आदरणीय समर साहब आपने सही फरमाया है ..मिसरा लाल रंग में कर दिया है| बहुत बहुत शुक्रिय…"

Rana Pratap Singh replied Oct 4, 2017 to ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा-अंक 87 में शामिल सभी ग़ज़लों का संकलन (चिन्हित मिसरों के साथ)

11 Oct 4, 2017
Reply by Samar kabeer

"काफिया और काफिये के पहले वाला लफ्ज़ पढ़ते समय एक साथ पढ़े जा रहे हैं जो एक दूसरा अश्लील…"

Rana Pratap Singh replied Sep 23, 2017 to "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-87

581 Sep 23, 2017
Reply by Gajendra shrotriya

सदस्य टीम प्रबंधन

"जनाब अफरोज साहब यह मिसरा लफ्ज़ 'शग़ल' को ग़लत वज्न में बंधने के कारण लाल हुआ है|"

Rana Pratap Singh replied Sep 23, 2017 to ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा-अंक 73 में शामिल सभी ग़ज़लों का संकलन (चिन्हित मिसरों के साथ)

19 Oct 4, 2017
Reply by Samar kabeer

RSS

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

anjali gupta replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"आदरणीय मोहम्मद आरिफ़ जी, बहुत शुक्रिया आपका। लेकिन साहस से आशय सच में नहीं समझ पायी।सादर"
5 minutes ago
Mohammed Arif replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"लाजवाब ग़ज़ल । दिली मुबारकबाद क़ुबूल करें आदरणीय अफ़रोज़ 'सहर' साहब ।"
7 minutes ago
Mohammed Arif replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"आदरणीय मुनीश तन्हा जी आदाब,                    …"
9 minutes ago
Mohammed Arif replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"मज़ा आ गया! मज़ा आ गया !  क्या ख़ूब शे'र कहे हैं हुज़ूर ने । शे'र दर शे'र दाद के…"
11 minutes ago
Manjeet kaur replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"अफ़रोज़ साहब, बेहतरीन गज़ल, मुबारकबाद"
13 minutes ago
Mohammed Arif replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"आदरणीया अंजलि गुप्ता जी आदाब,                  …"
14 minutes ago
anjali gupta replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"बहुत शुक्रिया आपका लक्ष्मण धामी मुसाफ़िर जी"
20 minutes ago
Mohammed Arif replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"हुईं हैं बाँझ ये आहें असर नहीं करतींदुआ-गो रहिए; दुआ कोई फल तो सकती है  । क्या ख़ूब अंदाज़ है !…"
25 minutes ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"आ. भाई शिज्जू जी, बेहतरीन प्रस्तुति हुई है । हार्दिक बधाई ।"
28 minutes ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"आ. अंजली जी, अच्छे भवों वाली सुंदर गजल हुई है । गुणी जनों की सलाह से यह और बेहतर हो जायेगा ।"
32 minutes ago
Mohammed Arif replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"गर आप चाहें तबीअत बहल तो सकती है कोई मिलाप की सूरत निकल तो सकती है। लाजवाब मतला । मज़ा आ गया ।…"
33 minutes ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव तरही मुशायरा" अंक-94
"आ. भाई समर जी, सादर अभिवादन । गजल का हर शे'र लाजवाब हुआ है कोटि कोटि बधाई ।"
43 minutes ago

© 2018   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service