For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

नव दुर्गा

भक्ति नवधा से समाहित, शुद्ध हो आराधना। 
योग शुभ नवरात्रि मन की, पूर्ण करता कामना। । 
माँ बड़ी कल्याणकारी, यह जगत अवधारना। 
आज आओ मिल करें हम, मात की अवगाहना।१। 

अवतरण गिरिराज के घर, अम्ब का माना गया। 
नाम माँ का शैलपुत्री, विश्व में जाना गया। ।  
प्रथम दिन जग पूजता जिस, आदि माँ के रूप को। 
शक्ति की संवाहिका माँ, पार्वती प्रतिरूप को।२।  

नाथ शंकर हों हमारे, मात ने यह प्रण लिया।  

आचरण में ला तपस्या, पूर्ण प्रण माँ ने किया। । 

रूप की जिस दूसरे दिन, जग करे है वंदना। 
चारिणी हैं ब्रह्म की माँ, दक्ष की वह नंदना।३। 

घंट जैसा चन्द्र आधा, शीश मैय्या धारती। 
चन्द्र घंटा नाम तब से, मात निज साकारती। । 
चन्द्र घंटा की कृपा से, दिव्य हों अनुभूतियाँ। 
द्वार माँ के हैं रमाते, संत योगी धूनियाँ।४। 

माँ रचे ब्रह्मांड को जब, निज मधुर मुस्कान से। 
मात कूष्मांडा जगत में, ज्ञात इस अभिधान से। । 
ध्यान माँ की धारणा से, कीर्ति जग यश वृद्धि हो। 
रोग नाशे शोक हारे, आयु में अभिवृद्धि हो।५। 

 

पाँचवा माँ रूप मोहक, स्कन्द धारे गोद में। 
स्कन्द माता नाम ध्याते, भक्त सारे मोद में। । 
अर्चना माँ की सुगम अति, मोक्ष का पट खोलती। 
जान महिमा सृष्टि सारी, मात की जय बोलती।६। 

माँ दुलारी ऋषि कुमारी, कामदा कात्यायनी। 
लग्न बाधा दूर करती, निर्मला वरदायनी। । 
रूप माँ का अति मनोहर, दुष्ट वृत्ति विनाशिनी। 
माँ शुभग कल्याणकारी, भक्त धाम विहारिनी।७। 

घोर श्यामा रौद्र वदना, सूर्य सम  तेजस्विनी। 
काल जेती माँ कहाती, कालरात्रि तपस्विनी। । 
माँ कराली मुक्त केशी, मुंड नर गल धारिनी। 
अभय मुद्रा माँ सुहाती, मात गर्दभ वाहिनी।८। 

गौर वर्णा माँ भवानी, श्वेत वृषभ वाहिनी। 
कोमलांगी श्वेत वसना, माँ शुभग फलदायिनी। । 
पुण्य अर्जन मात दर्शन, पाप जीवन के जले। 
माँ महागौरी कृपा से, कामना मन की फले।९। 

 

रूप नौवां सिद्धिदात्री, अष्ट सिद्धि प्रदायिनी। 

मात कमलासीन सुखदा, भक्त कष्ट निवारिनी। । 

ध्यान माँ व्यवधान टाले, माँ सकल भय हारिणी।   

सौम्य रूपा माँ अनूपा, माँ जगत उद्धारिणी।१०।   

 

                  मौलिक व अप्रकाशित 

Views: 150

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Blogs

Latest Activity

लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आ. भाई वासुदेव जी, प्रदत्त विषय पर बेहतरीन रचना हुयी है । हार्दिक बधाई ।"
23 minutes ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आ. भाई अशोक जी, सादर अभिवादन । लम्बे अंतराल के बाद आपकी उपस्थिति से प्रसन्नता हुयी । स्नेह के लिए…"
30 minutes ago
लक्ष्मण धामी 'मुसाफिर' replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आ. भाई छोटेलाल जी, स्नेह के लिए आभार ।"
32 minutes ago
Samar kabeer commented on राज़ नवादवी's blog post राज़ नवादवी: एक अंजान शायर का कलाम- ८१
"मज़कूरा लुग़त क़ाबिल-ए-ऐतिबार नहीं ।"
50 minutes ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"सम्मान.     रंग कभी खुशहाली के भी, दिखे न एक समान | पीड़ा देता एक सरीखी , सदा मगर अपमान…"
1 hour ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आदरणीय वासुदेव अग्रवाल साहब सादर, प्रदत्त विषय पर दोहा-गजल की नव विधा में आपने सुंदर काव्य रचना…"
1 hour ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आदरणीय टी आर शुक्ल साहब सादर, बहुत उत्तम बात कही है आपने. भौतिकतावादी युग में सम्मान पाने का अचूक…"
1 hour ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"ऊँच-नीच छोटा-बड़ा , रखें सभी का ध्यान | सत्य कहा है आपने, तब मिलता सम्मान || आदरणीय भाई लक्ष्मण…"
2 hours ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"उत्तम है दोहावली , सीख मिली है नेक | जीवन यह सम्मान का, चाहे जन हर एक || आदरणीय डॉ. छोटेलाल सिंह जी…"
2 hours ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आदरणीया अनिता शर्मा जी सादर, प्रदत्त विषय को छूती हुई तुकांत रचना की है आपने. इस सुंदर रचना पर…"
3 hours ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आदरणीय नादिर खान साहब सादर, प्रदत्त विषय पर बहुत सुंदर अतुकांत रचा है आपने. सच है कि दूसरों को नीचा…"
3 hours ago
Ashok Kumar Raktale replied to Admin's discussion "ओ बी ओ लाइव महा उत्सव" अंक-98
"आदरणीय तस्दीक एहमद खान साहब सादर नमस्कार, प्रदत्त विषय पर बहुत खूबसूरत गजल हुई है आपकी. दिली…"
3 hours ago

© 2018   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service