For any Query/Feedback/Suggestion related to OBO, please contact:- admin@openbooksonline.com & contact2obo@gmail.com, you may also call on 09872568228(योगराज प्रभाकर)/09431288405(गणेश जी "बागी")

Rekha Joshi's Comments

Comment Wall (27 comments)

You need to be a member of Open Books Online to add comments!

Join Open Books Online

At 10:12am on May 6, 2013, यशोदा दिग्विजय अग्रवाल said…

आभार

अभिनन्दन

At 1:53pm on February 27, 2013, Meena Pathak said…

शुक्रिया रेखा जी 

At 8:18pm on February 22, 2013, बृजेश नीरज said…

आपने मुझे मित्रता योग्य समझा इसके लिए आपका आभार!

At 4:30pm on December 8, 2012, श्रीराम said…

 आपका बहुत बहुत धन्यवाद

At 9:59pm on September 25, 2012, tejwani girdhar said…

shukriya

At 9:35am on September 22, 2012, लोकेश सिंह said…

आदरणीया आपका सादर अभिवादन ,सराहना के लिए हृदय से आभार ,

At 11:01am on September 10, 2012, SANDEEP KUMAR PATEL said…

आदरणीया रेखा जी सादर प्रणाम
ग़ज़ल को पसंद करने के लिए आपका बहुत बहुत धन्यवाद सहित सादर आभार

At 8:33am on August 20, 2012, tejwani girdhar said…

आपका स्वागत है

At 10:07am on July 28, 2012, Vasudha Nigam said…

आदरणीय रेखा जी बहुत आभार आपका मेरी कविता के भाव समझ कर उत्साहवर्धन करने के लिए 

At 11:49pm on July 5, 2012, SURENDRA KUMAR SHUKLA BHRAMAR said…

रेखा जी सदा स्वागत है  आप का मित्रता बनी रहे हम भी आप सब से सीखते चलें यही चाह है 

आभार 
भ्रमर 5 
भ्रमर का दर्द और दर्पण  
At 2:05pm on June 21, 2012, लक्ष्मण रामानुज लडीवाला said…

रेखा जोशीजी, प्रबुद्ध जीवियों से दोस्ती करने में बेहद ख़ुशी 

का अहसास होता है | स्वागत है आपका |
-लक्ष्मण प्रसाद लडीवाला,जयपुर 
At 10:19pm on June 20, 2012, लक्ष्मण रामानुज लडीवाला said…
रेखा जोशीजी, आपके जन्म दिन पर हार्दिक शुभ कामनाए |

प्रभु से प्रार्थना है आपको सपरिवार खुशाल, संपन्न,और समर्थ

बनावे | देश और समाज में आपका योगदान बढ़ता रहे |

-लक्ष्मण प्रसाद लडीवाला,जयपुर
At 2:09pm on May 28, 2012, naveen yadav said…

thanks

At 12:21am on May 21, 2012, Monika Jain said…

i m fine what about u? :}

At 12:25pm on May 19, 2012, Sarita Sinha said…
I am happy too,rekha ji...welcome
At 6:50pm on May 17, 2012, PRADEEP KUMAR SINGH KUSHWAHA said…

आदरणीय रेखा जी, सादर 

सब कुछ बिलकुल आसान
खोलिए मेरा पन्ना 
सबसे ऊपर दिखेगा   सदस्य
खोलिए , ढूंढिए   मनचाहे मित्र 
भेजिए सन्देश दीखता बगल में बॉक्स
या 
जिनकी रचनाएं आप पढ़ या कमेन्ट कर रही हैं. उनकी फोटो पर क्लिक करिए. उनकी प्रोफाइल खुलेगी. बाएं हाथ कालम में दिखेगा ऐड फ्रेंड. क्लिक कीजिये .
विलम्ब के लिए छमा प्रार्थी. 
At 7:34pm on May 16, 2012, Shayar Raj Bajpai said…

सब खैरियत है मोहतरमा.... आप सुनाइए..... आप कैसी हैं? हमे एड करने के लिए सुक्रिया....

At 7:16pm on May 16, 2012, Sanjay Mishra 'Habib' said…

I'm very fine Rekha ji, thanks & welcome pls.

At 11:12am on May 16, 2012, Arun Sri said…

ओ बी ओ साहित्य का स्कूल है ! बहुत कुछ सीखा जा सकता है ! आप यहाँ बने रहिए ! खासकर तीनो मासिक गतिविधियों "चित्र से काव्य तक" , "महा उत्सव" और "तरही मुशायरा " में भाग लीजिए , सतत अवलोकन करते रहिए ! आपका उद्देश्य पूरा हो सकता है ! सादर !

At 10:21am on May 16, 2012, Arun Sri said…

आपका स्वागत है मैम ! आपका सानिध्य अनमोल है ! साथ और सहयोग बना रहे !

कृपया ध्यान दे...

आवश्यक सूचना:-

1-सभी सदस्यों से अनुरोध है कि कृपया मौलिक व अप्रकाशित रचना ही पोस्ट करें,पूर्व प्रकाशित रचनाओं का अनुमोदन नही किया जायेगा, रचना के अंत में "मौलिक व अप्रकाशित" लिखना अनिवार्य है । अधिक जानकारी हेतु नियम देखे

2-ओपन बुक्स ऑनलाइन परिवार यदि आपको अच्छा लगा तो अपने मित्रो और शुभचिंतको को इस परिवार से जोड़ने हेतु यहाँ क्लिक कर आमंत्रण भेजे |

3-यदि आप अपने ओ बी ओ पर विडियो, फोटो या चैट सुविधा का लाभ नहीं ले पा रहे हो तो आप अपने सिस्टम पर फ्लैश प्लयेर यहाँ क्लिक कर डाउनलोड करे और फिर रन करा दे |

4-OBO नि:शुल्क विज्ञापन योजना (अधिक जानकारी हेतु क्लिक करे)

5-"सुझाव एवं शिकायत" दर्ज करने हेतु यहाँ क्लिक करे |

6-Download OBO Android App Here

हिन्दी टाइप

New  देवनागरी (हिंदी) टाइप करने हेतु दो साधन...

साधन - 1

साधन - 2

Latest Activity

Samar kabeer commented on Mamta gupta's blog post गजल
"मुहतरमा ममता गुप्ता जी आदाब, इससे पहले भी कमेंट किया था जो आपकी ग़लती से डिलीट हो गया । ग़ज़ल का…"
7 hours ago
Mamta gupta commented on Aazi Tamaam's blog post ग़ज़ल : मिज़ाज़-ए-दश्त पता है न नक़्श-ए-पा मालूम
"अच्छी ग़ज़ल हुई बधाई स्वीकार करें आदरणीय"
8 hours ago
Sushil Sarna commented on Sushil Sarna's blog post दोहा सप्तक .. इच्छा , कामना, चाह आदि
"आदरणीय समर कबीर जी आदाब सृजन आपकी मनोहारी प्रशंसा का दिल से आभारी है सर "
8 hours ago
Sushil Sarna commented on Sushil Sarna's blog post दोहा सप्तक .. इच्छा , कामना, चाह आदि
"आदरणीय चेतन प्रकाश जी सृजन के भावों को मान देने का दिल से आभार आदरणीय जी । सहमत एवं संशोधित । "
8 hours ago
Mamta gupta commented on Mamta gupta's blog post गजल
"आदरणीय @Euphonic Amit उत्साहवर्धन के लिए शुक्रिया आपका"
9 hours ago
Admin posted a discussion

"ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-112

आदरणीय साथियो,सादर नमन।."ओबीओ लाइव लघुकथा गोष्ठी" अंक-112 में आप सभी का हार्दिक स्वागत है।"ओबीओ…See More
yesterday
Samar kabeer commented on Sushil Sarna's blog post दोहा सप्तक .. इच्छा , कामना, चाह आदि
"जनाब सुशील सरना जी आदाब, सुंदर दोहावली के लिए बधाई स्वीकार करें ।"
yesterday
Samar kabeer commented on Aazi Tamaam's blog post ग़ज़ल : मिज़ाज़-ए-दश्त पता है न नक़्श-ए-पा मालूम
"जनाब आज़ी तमाम जी आदाब, ग़ज़ल का प्रयास अच्छा है, बधाई स्वीकार करें । 'न वक़्त-ए-मर्ग मुकर्र न…"
yesterday
जयनित कुमार मेहता commented on Aazi Tamaam's blog post ग़ज़ल : मिज़ाज़-ए-दश्त पता है न नक़्श-ए-पा मालूम
"आदरणीय आज़ी तमाम जी, सादर नमस्कार! बहुत ख़ूबसूरत ग़ज़ल कही है आपने। इसके लिए आपको हार्दिक बधाई प्रेषित…"
yesterday
Chetan Prakash commented on Sushil Sarna's blog post दोहा सप्तक .. इच्छा , कामना, चाह आदि
"अच्छा दोहा- सप्तक लिखा, आ. सुशील सरना जी किन्तु पहले दोहे के तीसरे चरण में, "ओर- ओर " के…"
Wednesday
Aazi Tamaam commented on Aazi Tamaam's blog post ग़ज़ल : मिज़ाज़-ए-दश्त पता है न नक़्श-ए-पा मालूम
"बहुत बहुत शुक्रिया इस ज़र्रा नवाज़ी का आ चेतन जी"
Wednesday
Sushil Sarna commented on Sushil Sarna's blog post दोहा सप्तक .. इच्छा , कामना, चाह आदि
"आदरणीय  अशोक रक्ताले जी सृजन के भावों को मान देने का दिल से आभार आदरणीय ।"
Tuesday

© 2024   Created by Admin.   Powered by

Badges  |  Report an Issue  |  Terms of Service